स्मृति ईरानी को गुस्सा क्यों आया

कांग्रेस ने आरोप लगाया कि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की पुत्री गोवा में गैरकानूनी बार चला रही हैं। मुख्य विपक्षी दल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से यह भी आग्रह किया कि वह केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री को बर्खास्त करें। स्मृति ईरानी की पुत्री की ओर से इन आरोपों को खारिज किया गया है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि, “मेरी बेटी पढ़ती है, बार नहीं चलाती. मेरी बेटी पर हमला निंदनीय है मैं अब कोर्ट में कांग्रेस से जवाब मांगूंगी.” स्मृति ईरानी ने कहा, “पीसी में कांग्रेस के प्रवक्ता ने हंसते हुए जिस लड़की पर आक्रमण किया वो साधारण लड़की है, जो साधारण जीवन व्यतीत कर रही है। मेरी 18 साल की बेटी कॉलेज में पढ़ती है। कांग्रेस साल 2024 में दोबारा राहुल गांधी को अमेठी भेजे, मैं फिर राहुल गांधी को अमेठी में धूल चटाऊंगी.” ।

कहा जा रहा है कि आबकारी विभाग की ओर से स्मृति ईरानी की पुत्री को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था और जिस अधिकारी ने नोटिस दिया था उसका कथित तौर पर तबादला किया जा रहा है।कांग्रेस के मीडिया एवं प्रचार प्रमुख पवन खेड़ा ने संवाददाताओं से कहा, “केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के परिवार पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगे हैं ,गोवा में उनकी बेटी द्वारा चलाए जा रहे रेस्टोरेंट पर शराब परोसने के लिए फ़र्ज़ी लाइसेंस जारी करवाने का आरोप लगा है और यह कोई सूत्रों के हवाले से अथवा एजेंसियों द्वारा राजनीतिक प्रतिशोध लेने के लिए लगाया गया आरोप नहीं है, बल्कि सूचना का अधिकार (आरटीआई) के तहत प्राप्त जानकारी में खुलासा हुआ है। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की बेटी ने अपने सिली सोल्स कैफे एंड बार के लिए फ़र्ज़ी दस्तावेज़ देकर बार लाइसेंस जारी करवाए।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की बेटी पर गोवा में अवैध बार चलाने के आरोपों के बाद शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी सामने आई हैं। उन्होंने स्मृति की बेटी जोइश ईरानी का बचाव करते हुए कहा, 18 वर्षीय छात्रा को खलनायिका की तरह नहीं पेश किया जाना चाहिए। प्रियंका चतुर्वेदी ने ट्वीट कर कहा, 18 साल के बच्चों को तो यह भी नहीं पता होता कि भारत में एक रेस्तरां चलाने के लिए लाइसेंस प्राप्त करने की प्रक्रिया क्या है और इसमें किस तरह की सजा हो सकती है।
इस मामले पर आरोप प्रत्यारोप जारी है अब स्मृति ईरानी के उस बयान पर की मेरी बेटी स्टूडेंट है पवन खेड़ा ने फिर पलट वार किया हैं पवन खेड़ा ने एक ट्वीट कर पूछा है कि कौन सी स्मृति ईरानी झूठ बोल रही हैं? वो स्मृति ईरानी जिन्होंने 14 अप्रैल 2022 को अपनी बेटी के रेस्टोरेंट की तारीफ की थी या वो स्मृति ईरानी जो आज कह रहीं हैं कि उनकी बेटी का कोई रेस्टोरेंट है ही नहीं?
बता दें कि कांग्रेस के प्रवक्ता पवन खेड़ा के आरोप पर जबाव देते हुए ईरानी ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. स्मृति ईरानी ने कहा कि मेरी बेटी कॉलेज में पढ़ाई करती है और वह कोई बार नहीं चलाती है। पवन खेड़ा ने आरोप लगाया था कि स्मृति ईरानी की बेटी बार चलाती हैं. बताया जा रहा है कि स्मृति ईरानी की ओर से आज शाम तक जयराम रमेश और पवन खेड़ा को कानूनी नोटिस भेजा जाएगा। इसके अलावा कांग्रेस महिला अध्यक्ष नेट्टा डिसूजा के खिलाफ भी कानूनी नोटिस भेजेगी।

वैसे ये मामला थमता नजर नहीं आ रहा हैं आगे भी इस पर राजनीति होते रहेगी। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने इस मामले में बेहद क्रोधित दिखाई दे रही है वो कह की भी चुकी है कांग्रेस अमेठी की हार नहीं भूली हैं इसी से बदला लेने के लिए उनकी बेटी का नाम उछाल रही हैं जब की उस आर टी आई में उनकी बेटी का नाम तक नही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *