जानिए क्यों श्रीदेवी ने जाह्नवी कपूर से अनिल कपूर के परफॉर्मेंस से सीखने को कहा था।

अनिल कपूर और दिवंगत अभिनेत्री श्रीदेवी ने 80 और 90 के दशक के बीच कई प्रतिष्ठित ब्लॉकबस्टर फिल्मे दी, जिनमें लम्हे, मिस्टर इंडिया, जुदाई और जांबाज़ शामिल हैं। शानदार ऑन-स्क्रीन जोड़ी ने अद्वितीय केमेस्ट्री और संक्रामक ऊर्जा साझा की, हर फिल्म को एक बड़े हिट और यादगार ड्रामा में बदल दिया।

एक बातचीत के दौरान, अभिनेत्री और श्रीदेवी की बेटी जान्हवी कपूर ने खुलासा किया कि उनकी माँ ने हमेशा उन्हें अनिल कपूर के परफॉर्मेंस को देखने और उनसे सीखने के लिए कहा। पैनल डिस्कशन में, जहां एजलेस स्टार भी मौजूद थे, युवा अभिनेत्री ने कहा, “अनिल चाचू (कपूर) उनके पसंदीदा सह-कलाकार थे। मुझे लगता है कि उन्होंने जो सीन्स और काम किया बहुत ही खास ऊर्जा से भरे थे।”

“वह हमेशा मुझे उनका परफॉर्मेंस देखने के लिए कहती थी। और उन्होंने वास्तव में कभी भी चाचू (अनिल कपूर) को छोड़कर किसी अन्य अभिनेता के बारे में बात नहीं की थी।वह मुझसे कहती थी कि आपको उनके काम को देखने की जरूरत है, और आपको देखने की जरूरत है वह कितनी मेहनत करते है। वह हमेशा मुझे उनकी कॉमिक टाइमिंग को देखने के लिए कहती थी, खासकर नो एंट्री के बाद जो बेजोड़ थी।”

नायक और मिस्टर इंडिया में अनिल कपूर के शानदार परफॉर्मेंस को देखने के अपने अनुभव के बारे में बात करते हुए, जान्हवी कपूर ने कहा, “मैं नायक और मिस्टर इंडिया के एक्शन सीन्स को नहीं देख सकती थी। मैं रोती थी। सभी को देखना कठिन था। उन्होंने (श्रीदेवी) मुझसे एक बार कहा था की बात यह है, आपको लगता है कि यह इसलिए है क्योंकि वह आपके चाचा हैं, जो ग्रेट है और प्यारे है, लेकिन वास्तव में ऐसा इसलिए है क्योंकि उनके पास एक अभिनेता के रूप में के चीज है जहां वे मस्ती कर सकते है जो कि बहुत ही चुलबुल और इंटेंस है। इनके पास एक चीज है जो ज्यादातर अभिनेताओं के पास नहीं है कि वह आपको उनके लिए बुरा महसूस करा सकता है। उनके पास एक भेद्यता है जो बहुत से लोगों के पास नहीं है। ”

इस बीच अनिल कपूर के कड़वे-मीठे रिएक्शन को कोई मिस नहीं कर पाया। इसके अलावा, अभिनेता ने कहा कि वह श्रीदेवी के साथ काम करने के लिए एक कलाकार के रूप में धन्य महसूस करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *